पर्सनल लोन न चुकाने पर क्या होगा?

पर्सनल लोन न चुकाने पर क्या होगा? ये एक ऐसा सवाल है ये तब आपको परेशानी देता जब अचानक आप किसी वित्तीय परेशानी में फंस जातें हैं और आपको चिंता सताने लगती है अब क्या होगा?

कही बैंक आप पर किसी तरह का लीगल कार्यवाही तो नहीं करेगा जिससे समाज में आपकी शाख गिर जाएगी ये चिंता का विषय है। यदि आपने लोन लिया है तो आपको चुकाना उत्तम है सामाजिक और धर्मिक आधार पर चाहे आप किसी भी मजहब से ताल्लुक रखतें हों।

जिंदगी हमेशा एक जैसी नहीं होती जैसा की हमने इस कोरोना महामारी में देखा की किस तरह से लोगों अपने नौकरी, रोजगार और कारोबार से हाथ धोना पड़ा। ऐसी परिस्थिति में आप किस तरह से अपने लोन का चूका पाएंगे?

आपके साथ पर्सनल लोन न चुकाने पर क्या होगा? इसके लिए आपको कुछ बातों को जानना जरूरी है कि आपके लोन का प्रकार क्या है?

इसे भी पढ़े – Personal Loan Defaulter Legal Action Hindi

पर्सनल लोन के प्रकार

यदि कभी आप ऐसी स्थिति (पर्सनल लोन न चुकाने पर क्या होगा) में पड जाएँ तो आपको घबराना नहीं है बस आपको एक सही दिशा और जानकारी की जरूरत होगी। पर्सनल लोन दो प्रकार के होते है निचे देखने।

असुरक्षित व्यक्तिगत ऋण – असुरक्षित पर्सनल लोन वो होता जहाँ बैंक आपके निजी वित्तीय योग्यता के अनुसार आपको पर्सनल लोन देता है जिसके लिए वो आपके कुछ बेसिक कागजात की जाँच करता है जैसे सैलरी कितनी है, आपने पीछे कोई लोन तो नहीं, आपकी इनकम सर्टिफिकेट और सिबिल स्कोर को चेक करता है।

बिना कोई सामान गिरवी रखे आपको जो लोन मिलता है उसे असुरक्षित लोन कहा जाता है, जिसमें बैंक का रिस्क ज्यादा होता है। हालाँकि इसमें लोन ऑफ़ इंटरेस्ट अधिक होता है।

सुरक्षित व्यक्तिगत ऋण – सुरक्षित पर्सनल लोन के लिए बैंक आपसे कोई गारंटी मांगता है. मतलब की आपके लोन राशि के बदले कुछ गरीवी रखता है वो चल अचल संपत्ति कुछ भी हो सकती है जिसे बैंक कंसीडर करता हो।

Instant Opening Saving Account – HDFC Life

बैंकों का लोन नहीं चुकाने पर क्या होता है?

पर्सनल लोन न चुकाने पर क्या होगा

जब बैंक लोन वसूलने की शुरुवाती कोशिशे नाकाम हो जाए तभी बैंक आपके ऊपर क़ानूनी कार्यवाही (पर्सनल लोन न चुकाने पर क्या होगा) करने की पूरी तरह से आज़ाद है लेकिन ऐसा नहीं है आपके पास कोई पक्ष नहीं बचता है।

इसेभीपढ़े – PhonePe Se Loan Kasie Milta Hai

असुरक्षित पर्सनल लोन न चुकाने पर क्या होगा?

जैसा की ऊपर बताया है असुरक्षित लोन में अधिक नुकसान बैंक का होता है। यदि आप ने पर्सनल लोन लिया जिसे चुकाने में असमर्थ है तो ऐसा में आपको ज्यादा परेशान होने की जरुरत नहीं है।

पर्सनल लोन देफुलटेर स्थिति में बैंक आपके ऊपर कोई भी कार्यवाही नहीं कर सकता है बशर्तें आपका लोन सिक्योर्ड ना हो। ऐसी परिस्थिति में बैंक आपसे डायरेक्ट फ़ोन करेगा और आपसे इसको निबटाने की बात करेगा।

यदि आप बैंक के कॉल के बाद भी ऋण नहीं चुकाते हैं, तो बैंक कर्ज वसूली एजेंसी को आपका लोन अकाउंट चुकौती या सेटेलमेंट के लिए भेज देते हैं। ये आपको कॉल करेंगे या फिर एजेंट को आपके घर पर भेजेगा वसूली के लिए। यदि इसके बाद भी लोन चुकाने में असमर्थ हैं तो आपका लोन अकाउंट को बंद कर दिया जाता है।

इसका सबसे बड़ा नुकसान आपके सिबिल स्कोर पर पड़ता है जो खराब हो जाएगा और आप भविष्य में ऋण के लिए अयोग्य हो जाएंगे। अगर आप अपना पर्सनल लोन नहीं चुका पाते हैं तो ऐसा होगा।

इसे भी पढ़ें: NHFDC Loan in Hindi

सुरक्षित पर्सनल लोन न चुकाने पर क्या होगा?

जब बैंक (पर्सनल लोन न चुकाने पर क्या होगा) आपको लोन देता तब आपके और बैंक के बिच भारतीय अनुबंध अधिनियम 1872 के तहत करार होता है कि आपको तय अवधि में लोन ली गई राशि का भुगतान तय समय में कर देंगे। ऐसा नहीं होने पर लोन आकउंट अनियमित हो जाता है अब बैंक को पूरा अधिकार है आपने पैसे की वसूली के लिए कानून का सहारा ले सकता है।

  • सबसे पहले बैंक आपसे व्यक्तिगत संपर्क या सामान्य नोटिस से आपसे लोन आकउंट के अनियमितिता पर कार्य वही करने की जानकारी देगा।
  • यदि इसके बाद भी स्थिति में सुधार नहीं होता है तो बैंक वसूली के लिए अदालत में दवा पेश करेगा जिसका समस्त खर्च आपको वहन करना होगा।
  • आपको ध्यान देना होगा की ऋण का अनुबंध आपने तोडा है इसलिए बैंक आपके खिलाफ फैसला देगा।
  • जब आपने बैंक से लोन लिया था तो आपने बैंक को भावी चेक दिया था जो बैंक अदालत में प्रस्तुत करेगा और चेक बिना भुगतान वापस की विनिमय साध्य विलेख अधिनियम की धारा 138 के तहतअलग से कानूनी कार्यवाही की जायेगी । इस धारा के तहत जेल और जुर्माने की सजा का प्रवधान है ।
  • अंत में बैंक आपके द्वारा अचल या चल संम्पत्ति जो भी गरीवी राखी गई है उसको नीलाम कर अपने पैसे की वसूली करेगा।

अन्य कौन से कारक ऋण चुकौती को रोकते हैं

जीवन अनिश्चितता का नाम है, कोई कारण भी होता है जब बैंक का ऋण रुक जाता है, ऐसे में बैंक ऋण की वसूली कैसे करता है। जैसे कि उधारकर्ता की मृत्यु के मामले में, ऋण की गारंटी, गंभीर दुर्घटना की स्थिति में और अर्जित ब्याज मूल राशि से अधिक होने पर सभी के बारे तफ्सील से जानतें है।

इसे भी पढ़ेICICI Bank Personal Loan Kaise Le

उधारकर्ता की मृत्यु के मामले

यदि उधारकर्ता की अचानक मृत्यु हो जाती है, तो बैंक ने पहले ही इस परिस्थिति को भाँप लिया होता है। इस मामले में, बैंक पहले ही ऋण का बीमा कर चुका होता है, जिसका भुगतान उधारकर्ता से लिया जाता है।

भविष्य ऐसा होने बैंक आपने पैसा की वसूली बिमा कंपनी से करता है हालाँकि की हम ऐसी होने की उम्मीद नहीं करते लेकिन इस स्थिति में बैंक का पैसा डूबता नहीं है।

ऋण की गारंटी

आपने देखा होगा कि कुछ बैंक कर्ज देते समय आपसे गारंटर मांगते हैं, अगर बैंक से लिए गए कर्ज की अदायगी में दिक्कत आती है या कर्जदार की मौत हो गई है तो ऐसी स्थिति में कर्जदार से कर्ज की वसूली हो जाएगी।

गंभीर दुर्घटना की स्थिति में

अगर आपके साथ कोई दुर्घटना हुई है जिसके कारण आप कर्ज नहीं चुका पा रहे हैं तो बैंक तत्काल कानूनी कार्रवाई नहीं करने वाला है, इसकी भी एक प्रक्रिया है।

पहली किश्त का भुगतान नहीं होने से कार्यवाही शुरू होती है लेकिन यह कार्यवाही गंभीर नहीं होती है। इस बात पर भी निर्भर करता है बैंक और ग्राहक के सम्बन्ध कैसे हैं।

मृत्यु जैसी दुर्घटना के विषय में हम चर्चा कर चुके हैं लेकिन गंभीर रूप से बीमार या गंभीर रूप से दुर्घटना ग्रस्त होने की स्थिति में बैंक आपको पूरा समय देगा और किसी भी प्रकार का बल प्रयोग नहीं कर सकता है। रिजर्व बैंक ने अपने निर्देश में साफ तौर पर इंस्ट्रक्शन किया है।

इसे भी पढ़ेहोम लोन न चुकाने पर क्या होगा?

अर्जित ब्याज मूल राशि से अधिक होने पर

जीवन में कभी भी हालत बुरे से बत्तर (पर्सनल लोन न चुकाने पर क्या होगा) हो जाते है जहाँ घर चलना मुश्किल हो जाता है तो ऐसी स्थिति में लोन कहाँ से चुकाएगा। जिस वजह से उधारकर्ता का ब्याज की राशि ही मूलधन से अधिक हो जाती है।

बैंक समझता है कि ऐसा (पर्सनल लोन न चुकाने पर क्या होगा) उधारकर्ता ऋण चुकाने में असमर्थ है, फिर भी बैंक आपको एकमुश्त ऋण निपटान प्रदान करता है। अगर यहां भी कर्ज का निपटारा नहीं होता है तो बैंक उसे गैर-निष्पादित परिसंपत्ति (NPA) के रूप में वर्गीकृत कर देता है और बैंक कर्जदार को दिवालिया मान लेता है।

बैंक अपना पैसा एनपीए में नहीं जाने देता है इसलिए बैंक आपको छोटी छोटी किश्तों में मूलधन को भुगतान करने का ऑफर्स देता है और सभी ब्याज माफ़ कर दिया जाता है। इसका आप लाभ उठा सकतें है लेकिन लेकिन क्रेडिट स्कोर राइट-ऑफ में चला जाएगा और आपके लिए भविष्य में कोई ऋण लेना मुश्किल होगा।

Final Thought

दोस्तों आपको यह (पर्सनल लोन न चुकाने पर क्या होगा) लेख कैसा लगा मुझे उम्मीद है कि इस पोस्ट ने आपको डिफॉल्टर होने की समस्या से अवगत कराया होगा। इस पोस्ट ने आपके मन में उठ रहे सवालों का अंत जरूर किया होगा।

अगर आपको मेरा काम पसंद आया तो इस (पर्सनल लोन न चुकाने पर क्या होगा) पोस्ट को शेयर करें और मैं आपके सवालों की प्रतीक्षा कर रहा हूँ

इसे भी पढ़ेशेयर मार्केट कैसे सीखे?

इसे भी पढ़ेबिटकॉइन क्या है?

Instant Opening Saving Account – IndusInd Bank

  • बीमा कितने प्रकार के होते हैं

    बीमा कितने प्रकार के होते हैं? | Bima Kitne Parkar Ke Hote Hai?

  • Guatam Adani 2021 के दुनिया के दूसरे अमीर व्यक्ति

    Guatam Adani 2021 के दुनिया के दूसरे अमीर व्यक्ति, Jeff Bezos, Elon Musk को भी पछाड़ा

  • Best Trading App India Hindi

    Best Trading App India Hindi | Share Market Trading App Hindi

  • Online Trading Kaise Kare

    Online Trading Kaise Kare | मोबाइल से शेयर ट्रेडिंग कैसे करें | Online Trading in Hindi

  • Bike Ka Insurance Kaise Check Kare

    4 आसान तरीके Bike Ka Insurance Kaise Check Kare Online

  • बिटकॉइन कैसे खरीदें

    बिटकॉइन कैसे खरीदें? | Bitcoin Kaise Kharide

16 thoughts on “पर्सनल लोन न चुकाने पर क्या होगा?”

    • जहर भाई अगर आपने पर्सनल लोन लिया होता जिसमें कोई गारंटर या
      गिरवी नहीं है तो बैंक आपको परेशान नहीं कर सकता, हो सकता है कि बैंक ने आपके घर आने वाले किसी रिकवरी एजेंट भेज रहा हो जो कि किराये पर रखें जाते है.

      तो कृपया सीधे बैंक से टेलीफोन से या ईमेल द्वारा संपर्क करें और उन्हें आरबीआई की गाइडलाइंस के मुताबिक अगर बैंक अगर बैंक या उसके एजेंट आपको मानसिक उत्पीड़न करतें है है तो कोर्ट जाने की बात कहो।

      कोर्ट में केवल आपको इतना कहना होगा मेरे पास ऋण चुकाने की क्षमता नहीं है। आपको बिलकुल भी घबराने के आवश्कता नहीं है।

      लेकिन अगर आपने लोन लेते समय कोई सिक्योरिटी डिपॉजिट की है या गारंटर है, तो बैंक को हर हाल में पैसे की जरूरत है।
      या तो गारंटर से यह गरीवी राखी गई वस्तु को नीलाम करके।

      यदि आपने पर्सनल लोना लिया जो असुरक्षित Loan है तो आपको रिकवरी एजेंट के सामने शख्ती से बर्ताव करना होगा वरना वो आपका पिच नहीं छोड़ेंगे।
      मुझे आशा है आपको समझ में आया होगा।

      Reply
      • Bhai mujhr bahut fayda hua tmhare jawaab se …kyuki maine dhani app se personal loan liya tha 809 rupees ka or use chuka nahi paya to usnr mujhr kanuni karyawaahi karne ki dhamki di hai …or bahut kuch kaha hai ab kya karu mai

        Reply
        • यार किसी बैंक या वित्तीय संगठन के पास इतना पैसा और समय नहीं है कि वो आप पर 1000 रूपये की वसूली के क़ानूनी कार्यवाही करेगा।
          पहली बात आपका लोन असुरक्षित लोन है इसलिए ये सिर्फ आपको धमकी दे सकतें है और कुछ कर नहीं सकते और जब ये धमकी दें तो
          सीधा बोलो आप मेरा मानसिक उत्पीड़न कर रहे है और मैं आपके खिलाफ कोर्ट में जायूँगा। बस इनकी हवा निकल जाएगी।

          और जब भी वो फोन कर के धमकाए या घर आये तो बोलो कर लो कानूनी कार्यवाही है फिर आपको एक वकील का डराने वाला पत्र
          आएगा जिसे फाड् कर फेक दो।

          जब आपके पास पैसे हो तो इनके रेकवरी एजेंट को फ़ोन करो और पैसा जमा कर दो, और डरो मत यार! जितने डरोगे ये डराएंगे।

          Reply
    • भाई पर्सनल लोन की किस्त टूटने पर आपको भरी जुर्माना देना पड़ सकता है, लेकिन आपको घबराना नहीं है
      सीधे लोन अधिकारी से बात करो पुरे आत्म विश्वाश के साथ कि आप किस दे सकतें हैं लेकिन जुरना अदा नहीं
      सकते क्यूंकि आपकी वित्तीय हालत ठीक नहीं बस।

      और पर्सनल लोन किस टूटने से कुछ नहीं होता इतना मत सोचो जो बताया वो करो। लाइफ को बिना टेंशन के जीवो।

      Reply
    • चाहे आपका लोन कितने का भी हो अगर आपका पर्सनल लोन असुरक्षित लोन है तो भी बैंक आपका कुछ नहीं बिगाड़ सकता है।
      यदि आपने कुछ लोन चुकाया है तो बचे हुए पर आप लोन की एक मुश्त या दो किश्त में भुगतान कर दो।

      मान लो आपने 10 लाख का प्रिंसिपल लोन लिया था और आपने 2 लाख चूका दिया बचे हुए आठ लाख पर आप एजेंट से बोलो
      मैं केवल प्रिंसिपल अमाउंट का 40% तक दे सकता हूँ।

      अगर आपका पर्सनल लोन पर कोई गौरंटर नहीं है या आपने कोई संपत्ति गिरवी नहीं राखी तो बैंक के ये एजेंट आपको सिर्फ
      परेशान कर सकतें जिसका उपाय मैंने पहले ही बताया है।

      मैं आपको एक बार फिर बता रहा हूँ ये केवल आपको मानसिक उत्पीड़न ही कर सकतें है और कुछ नहीं।
      लेकिन उपाय मैंने पहले ही बताया है उस पर अमल करो।

      Reply
  1. Mne dhani aap se 900 rupees ka loan liya tha aaj bo badke 1800 ho gya h or aaj hi uski court me sunbai ka message h jana chahiye ya nhi please any body tell me .

    Reply
    • Savita Ahirwar ji,
      aapko jo msg aaya hai wo koi court ka nhi hai, wah dhani app ke recory agent hai..
      isliye aapko ghabrane ki jarurat nahi.. kuch nahi hoga…is tarah ke msg aur latter ko kachre ke dibbe me dalon..
      don’t warry be happy…

      Reply
  2. Mein do no pav sey viklang hu bosss meine proptiy pe loan le rakha hai par ab meri halat bharne ki nai hai to kiya karu help mein

    Reply
    • aapke liye mujhe dukh hai..
      kyunki aapne secured loan liya hai isliye bank har hal me aapse paisa vasulega.
      aap kewal paisa chukaane ke liye bank se mohlat mang sakten anytha wo property ki nilami karke wasulenge..
      chunki aapke sath disable hai isliye bank ho sakta hai aapko satalement ka offer de.

      Reply
    • Are bhaiya mera kamina baap laon liya tha tacktr 1 lakh dene ko bache the but ab jake 20 lakh ho gaya hai our bank wale khet me rad jhandi ghadne wale h kya kre 😭😭😭😭😭😭😭

      Reply
      • Bank se sattelment ki baat karo.. aur yaad rakho aapke principal amount par discount ki baat karna
        jo ki 1-lakh hoga… Dusra wo loan aapne nahi liya to ghabrane ki baat nahi..teesra yadi loan ke
        liye koi chiz grilvi hai to mushkil hogi. Lekin yadi loan par koi garantar ya girvi nahi to sidha mana kar do…baat khatam..

        Reply
  3. Sir ji maine bank se 1400000 ka loan liya tha salaried psnl loan 10 he kist de paya ho. Maine kuch invest kiya tha lakin sab barbad ho gaya maine saher he chod diya hai lakin bank recovery agent garanter ko phone karte hai. Kya mere khilaf koi legal case kar sakta hai kya bank. Abhi mai koi job bhi nahi kar raha hu

    Reply
    • Bhai wo aapko to nahi paa sakten lekin aapka PAN no jahan bhi list hoga aapko pkad lenge.
      Bank wale itni mehnat nahi karenge kyunki sare loan ki wasuli wo aapke Garanter se karega…
      Yadi aap job nahi kar rahe rahe to bhi garantar se wasuli hogi…
      Aapke pass ek jayaj wajah hai. Fir bhi wah legal action lenge…

      aapko yah artical pdhna chahiye taki puri jaankari mil sake Secured & Unsecured Loan

      Reply

Leave a Comment